उन्होंने देश में कोरोना के संक्रमण से जुड़े आधिकारिक आंकड़ों  के आधार पर बताया कि कोरोनावायरस के संक्रमण का दायरा देश के 272 जिलों तक पहुंच गया है जिसके कारण रविवार को कोरोना संक्रमण के मामले बढ़कर 3,374 हो गए हैं जबकि इससे मरने वालों की संख्या 79 तक पहुंच गई. उल्लेखनीय है कि भारत में प्रशासनिक आधार पर जिलों की कुल संख्या 718 है. अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटों में कोरोना के 472 नये मामले सामने आये हैं, जबकि इस अवधि में 11 मरीजों  की मौत भी हुयी है.

दुनिया में

12,18,485मामले

9,00,093सक्रिय

2,52,492ठीक हुए

65,900मौत

कोरोनावायरस अब तक 183 देशों में फैल चुका है. April 5, 2020 7:08 pm बजे तक दुनियाभर में कुल 12,18,485 मामलों की पुष्टि हो चुकी है और 65,900 की मौत हो चुकी है. 9,00,093 मरीज़ों का उपचार जारी है और 2,52,492 लोगों को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई है. .

भारत में

3,577 505मामले

3,219 435सक्रिय

275 62ठीक हुए

83 8मौत

भारत में, 3,577 मामलों की पुष्टि हो चुकी है, जिनमें 83 मौत शामिल हैं. April 5, 2020 6:00 pm बजे तक भारत में सक्रिय मामलों की संख्या 3,219 है और 275 लोगों को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई है.

राज्यवार व जिलावार विवरण

राज्य मामले सक्रिय ठीक हुए मौत

DistrictCases

South77

South West14

West10

East9

North West9

South East9

North East8

North6

Central4

New Delhi3

Shahdara2

Details Awaited*352

503 58

492 56

18 3

7 1

DistrictCases

Mumbai173

Pune51

Mumbai Suburban41

Sangli24

Nagpur15

Thane14

Ahmednagar11

Raigad5

Palghar5

Buldhana4

Yavatmal4

Satara2

Kolhapur1

Jalgaon1

Nashik1

Aurangabad1

Ratnagiri1

Gondia1

Sindhudurg1

Details Awaited*134

490

472

42

24

DistrictCases

Chennai69

Coimbatore33

Tirunelveli30

Dindigul25

Erode25

Namakkal19

Theni12

Karur11

Madurai11

Thiruvarur9

Tiruppur8

Thoothukudi6

Salem6

Virudhunagar5

Sivaganga5

Kanniyakumari5

Tiruvannamalai4

Villupuram4

Kanchipuram4

Nagapattinam3

Ramanathapuram2

Vellore2

Tiruchirappalli1

Ariyalur1

Details Awaited*185

485 74

482 75

6

3 1

DistrictCases

Kasaragod58

Kannur25

Ernakulam18

Pathanamthitta14

Kozhikode6

Malappuram6

Thiruvananthapuram6

Thrissur5

Idukki3

Kottayam3

Palakkad3

Alappuzha2

Kollam1

Wayanad1

Details Awaited*155

306 11

259 3

49 8

2

DistrictCases

Hyderabad55

Warangal Urban12

Medchal Malkajgiri9

Ranga Reddy7

Karimnagar5

Mahabubnagar4

Kamareddy4

Bhadradri Kothagudem4

Nalgonda3

Sangareddy2

Nizamabad2

Jogulamba Gadwal2

Suryapet1

Mulugu1

Nagarkurnool1

Jangoan1

Mahabubabad1

Medak1

Details Awaited*154

269 110

244 79

32 31

7

DistrictCases

Gautam Buddha Nagar28

Meerut12

Agra11

Lucknow7

Ghaziabad6

Baghpat2

Moradabad2

Bareilly1

Ghazipur1

Jaunpur1

Kanpur Nagar1

Kheri1

Pilibhit1

Varanasi1

Shamli1

Details Awaited*151

227 53

210 53

19

2

DistrictCases

Jaipur36

Bhilwara23

Jodhpur16

Tonk9

Jhunjhunu8

Churu6

Ajmer5

Bharatpur3

Dungarpur3

Alwar3

Pratapgarh2

Udaipur1

Jaisalmer1

Sikar1

Pali1

Dholpur1

Dausa1

Details Awaited*80

200

179

21

0

DistrictCases

Visakhapatnam3

Krishna2

Chittoor1

East Godavari1

Guntur1

Spsr Nellore1

Prakasam1

Details Awaited*180

190 29

190 29

1

1

DistrictCases

Indore65

Jabalpur7

Ujjain5

Bhopal4

Gwalior2

Shivpuri2

Details Awaited*80

165 61

174 64

0

9 3

DistrictCases

Bengaluru Urban38

Mysuru11

Uttar Kannad9

Chikballapur9

Dakshin Kannad4

Kalaburagi3

Udupi3

Bengaluru Rural2

Davangere2

Chitradurga1

Dharwad1

Kodagu1

Tumakuru1

Details Awaited*59

144 16

136 17

12

4 1

DistrictCases

Ahmadabad32

Surat10

Gandhinagar9

Vadodara9

Rajkot7

Bhavnagar4

Porbandar3

Gir Somnath2

Kachchh1

Mahesana1

Botad1

Details Awaited*43

122 17

115 14

18 4

11 1

DistrictCases

Srinagar17

Bandipora11

Badgam7

Udhampur4

Jammu3

Rajauri3

Baramulla2

Pulwama2

Shopian2

Details Awaited*55

106 31

104 30

4 1

2

DistrictCases

Kolkata15

Nadia5

Hooghly4

24 Paraganas North3

Medinipur East3

24 Paraganas South2

Howrah2

Medinipur West1

Details Awaited*45

80 11

73 4

10 7

3

DistrictCases

Gurugram25

Faridabad6

Panipat4

Sirsa3

Panchkula2

Ambala1

Hisar1

Sonipat1

Palwal1

Details Awaited*15

59 10

35 10

25 1

1 1

DistrictCases

Shahid Bhagat Singh Nagar18

S.a.s Nagar9

Hoshiarpur5

Jalandhar5

Amritsar2

Ludhiana2

Patiala1

Details Awaited*15

57

61

1

5

DistrictCases

Patna5

Munger4

Saharsa2

Begusarai1

Lakhisarai1

Nalanda1

Siwan1

Details Awaited*15

30

31

0

1

DistrictCases

Marigaon2

Karimganj1

Nalbari1

Details Awaited*22

26 2

26 2

0

0

DistrictCases

Dehradun6

Pauri Garhwal1

Details Awaited*15

22 6

20 6

2

0

DistrictCases

Khordha3

Details Awaited*17

20 15

20 15

0

0

DistrictCases

Chandigarh16

Details Awaited*2

18

18

0

0

DistrictCases

Leh Ladakh11

Kargil2

Details Awaited*1

14

4

10 7

0

DistrictCases

North And Middle Andaman7

South Andamans3

10

10

0

0

DistrictCases

Raipur4

Bilaspur1

Durg1

Rajnandgaon1

Details Awaited*2

9

6

3

0

DistrictCases

North Goa2

South Goa1

Details Awaited*4

7

7

0

0

DistrictCases

Kangra3

Details Awaited*3

6

6

1

1

DistrictCases

Mahe1

Details Awaited*4

5

4

1

0

DistrictCases

Details Awaited*3

3 1

3 1

0

0

DistrictCases

Imphal West1

Details Awaited*1

2

2

0

0

1

1

0

0

DistrictCases

Details Awaited*1

1

1

0

0

उन्होंने बताया कि कोरोना के अब तक 267 मरीज स्वस्थ हो गए हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. हालांकि, राज्यों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, देश में कम से कम 106 लोगों की मौत हुई है जबकि रविवार सुबह तक संक्रमण के मामले बढ़कर 3,624 हो गए. इनमें से 284 लोग ठीक हो गए और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. संक्रमण के बारे में अलग-अलग राज्यों द्वारा दिए गए आंकड़ों के मुकाबले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों में संक्रमित एवं मृतकों की संख्या कम हैं.

अधिकारियों ने आंकड़ों में अंतर की वजह के बारे में बताया कि अलग-अलग राज्यों से संक्रमण के मामलों की पुष्टि से संबंधित जानकारी  मिलने में प्रक्रियागत देरी के कारण यह अंतर बना हुआ है. कोरोना का संक्रमण हवा से फैलने की रिपोर्टों के बारे में भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान संस्थान (आईसीएमआर) के रमन आर गंगाखेड़कर ने कहा कि अभी तक इसकी पुष्टि करने वाले कोई सबूत नहीं मिले हैं.

गंगाखेड़कर ने कहा, ‘‘अगर हवा से कोरोना का संक्रमण हो रहा होता तो परिवार के किसी एक सदस्य को संक्रमण होने पर पूरा परिवार संक्रमित होता या अस्पताल में इन मरीजों के आसपास रहने वालों को भी संक्रमण हो जाता. जबकि इस तरह की बात देखने को अब तक नहीं मिली है.” 

अग्रवाल ने कहा कि कोरोना का संक्रमण रोकने के लिये देशव्यापी लॉकडाउन को प्रभावी बनाने के प्रयासों की, सरकार निरंतर समीक्षा कर रही है. उन्होंने कहा कि इस दिशा में रविवार को कैबिनेट सचिव ने जिला स्तर पर लॉकडाउन को प्रभावी बनाने की समीक्षा करने के लिये सभी जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों और मुख्य चिकित्सा अधिकारियों सहित राज्य सरकारों के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिये बैठक की.

अग्रवाल ने कहा कि अब तक देश के 272 जिलों में कोरोना के मरीज सामने आने के मद्देनजर जिलाधिकारियों को तत्काल जिला स्तर पर आपदा प्रबंधन कार्ययोजना बनाकर अमल में लाने को कहा गया है. अग्रवाल ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों के पालन को कोरोना से बचाव की सर्वश्रेष्ठ उपलब्ध वैक्सीन बताते हुये इनका पालन करने की अपील की है.  

उन्होंने बताया कि संक्रमित मरीजों की अधिकता वाले नोएडा, आगरा और भीलवाड़ा सहित अन्य जिलों के जिलाधिकारियों ने स्थिति को नियंत्रण में करने के उपायों की बैठक में जानकारी दी. अग्रवाल ने बताया कि कैबिनेट सचिव ने सभी जिलाधिकारियों को चिकित्सा उपकरण एवं दवा बनाने वाले कारखानों का अबाध संचालन सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया है.

उन्होंने कहा कि संक्रमण को रोकने के लिये आईसीएमआर ने परामर्श जारी कर लोगों से सार्वजनिक स्थलों पर थूकने, धूम्रपान करने से बचने और गुटखा आदि तंबाकू पदार्थों का सेवन करने से बचने को कहा है. आईसीएमआर ने कहा है कि सार्वजनिक स्थलों पर थूकने से कोरोना के संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है. इस दौरान गृह मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने राज्य सरकारों के स्तर पर लॉकडाउन का पालन सुनिश्चित कराने के प्रयासों की सराहना करते हुये बताया कि मंत्रालय प्रवासी मजदूरों की समस्याओं के त्वरित समाधान कर रहा है.

श्रीवास्तव ने बताया कि प्रवासी मजदूरों को भोजन और आश्रय सुविधा मुहैया कराने के लिये देश भर में लगभग 28 हजार राहत केन्द्र संचालित हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि इनमें लगभग 24 हजार सरकारी और शेष सामाजिक संगठनों द्वारा संचालित हैं. इनमें 12.5 लाख लोगों को भोजन और आश्रय की सुविधा दी गयी है. इसके अलावा गरीबों को भोजन उपलब्ध कराने के लिये देश में 19460 विशेष ‘फूड केंप’ भी चल रहे हैं, जिनके माध्यम से प्रतिदिन लगभग 75 लाख लोगों को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है.

वहीं विभिन्न कारखानों एवं अन्य स्थानों पर कार्यरत लगभग 13.5 मजदूरों को उनके नियोक्ताओं द्वारा भोजन सुविधा दी जा रही है. एक सवाल के जवाब में गंगाखेड़कर ने बताया कि कोरोना के त्वरित परीक्षण के लिये ‘रेपिड टेस्ट किट’ की आपूर्ति बुधवार से शुरु होने की उम्मीद है.

उन्होंने कहा कि इस किट की उपलब्धता के बाद संक्रमण के अधिक प्रभाव वाले इलाकों से ‘त्वरित परीक्षण’ प्रणाली से परीक्षण शुरु कर दिया जायेगा. चिकित्साकर्मियों की निजी सुरक्षा के लिये इस्तेमाल होने वाली पीपीई किट की राज्यों में कमी के सवाल पर अग्रवाल ने कहा कि पीपीई का पहले सिर्फ आयात होता था. लेकिन इस साल जनवरी से पीपीई का घरेलू उत्पादन भी शुरू किया गया है. 

साथ ही इसकी उपलब्धता को मांग के अनुरूप बनाये रखने के लिये विदेशों से आयात भी किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि पीपीई की कमी को जल्द दूर कर मांग के अनुरूप आपूर्ति बहाल हो जायेगी.

निज़ामुद्दीन मरकज़ में हिस्सा लेने वालों की पहचान के लिए जगह-जगह हो रही तालाशी

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link