नई दिल्ली:

कोरोनावायरस के लिए केंद्र सरकार ने 8 राज्यों में निजी लैब की लिस्ट जारी कर दी है. इन राज्यों में दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, महाराष्ट्र, ओडिशा, तमिलनाडु,  तेलंगाना शामिल हैं. कोरोनावायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन किया गया है. यह फैसला इसलिए लिया गया है कि इस वायरस के फैलने की चैन को तोड़ा जा सके. लेकिन आज ही विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी WHO की ओर से कहा गया है कि इस वायरस से लड़ने के लिए सिर्फ लॉकडाउन ही काफी नहीं होगा. इसके लिए और आक्रमक तरीके से लड़ना होगा जिसमें लोगों की जल्द जांच अहम साबित होगी. डब्ल्यूएओ के प्रमुख ने कहा, ”लोगों को खोजना, आइसोलेट, परीक्षण और उनका इलाज करना सबसे अच्छा और तेज तरीका है, लेकिन इसके अलावा और भी बड़े कदम सामाजिक और आर्थिक स्तर पर उठाने होंगे.”

यहां देखें पूरी लिस्ट

सरकार ने तय की निजी लैब में जांच की फीस

आईसीएमआर के दिशानिर्देशों में जांच की दर 4500 रुपये से अधिक नहीं लेने की सिफारिश की गई है. इसमें संदिग्ध मामले के 1500 रुपये की स्क्रीनिंग जांच और पुष्टि जांच के लिये अतिरिक्त 3,000 रुपये भी शामिल हैं.  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड-19 जांच शुरू करने का इरादा रखने वाली निजी क्षेत्र की प्रयोगशालाओं के लिए मंगलवार को दिशानिर्देश जारी किये थे जबकि आईसीएमआर ने उनसे यह जांच मुफ्त करने की अपील की थी.

कितनी हो गई मरीजों की संख्या

देश में Coronavirus से अब तक 16 लोगों की मौत और संक्रमितों की संख्या  694  पहुंच गई है. वहीं, 88 नए मामले सामने आ आए.

LIVE COVID-19 UPDATE (INDIA)

LIVE COVID-19 UPDATE (WORLD)



Source link